Followers

Monday, 7 May 2018

"घर दिलों में बनाओ" राधा तिवारी ' राधेगोपाल '


घर दिलों में बनाओ
राधा तिवारी (राधे गोपाल)

 राधा तिवारी  ' राधेगोपाल '
किसी को अपना बनाओ तो अच्छा है l
किसी को पास बुलाओ तो अच्छा है  ll

राहें काँटे भरी तो सदा हैं मिली l
किसी के राह से कंटक हटाओ तो अच्छा है ll

तूफान नफरतों के हर ओर उठ रहे l
प्यार दिल में बसाओ तो अच्छा है  ll

रेत के  घर बनाए थे लाखों मगर l
घर दिलों में बनाओ तो अच्छा है ll

यूँ तो गाने के लिए पूरी महफिल सजी l
अपनों के संग गीत गाओ तो  अच्छा है ll

ढोल-तबला मंजीरें हैं बजने लगे  l
श्याम वाली बंसी बजाओ तो अच्छा है ll