Saturday, 6 October 2018

दोहे " लाल बहादुर शास्त्री "( राधा तिवारी "राधेगोपाल " )


 लाल बहादुर शास्त्री 
Image result for लाल बहादुर शास्त्री images
सदा सादगी से रहे ,पूरे जीवनकाल।
 लाल बहादुर का रहाजीवन बड़ा कमाल।।

 सत्याग्रह कितने किएकरने देश आजाद।
 ऐसे मानव को सदासब करते हैं याद।।

 अंग्रेजों को देश सेबाहर दिया निकाल।
 बिना शस्त्र के कर दियातुमने बहुत कमाल ।।

बाल्यकाल में हट गयापिता का उनसे साथ।
 मात दुलारी ने रखाउनके सिर पर हाथ।।

 मिर्जापुर में था लियाजिसने विद्याज्ञान।
 विवाह ललिता से हुआसात हुई संतान।।

 गए देश हित में सदाबहुत बार ये जेल।
 अंग्रेजों की आप तोगए यातना झेल।।

 बागडोर इस देश कीले ली अपने हाथ।
 आगे किसी दबाव केनहीं झुकाया माथ।।