Tuesday, 9 October 2018

कविता "बेड़ा पार हो गया" (राधा तिवारी 'राधेगोपाल')

जिसने पालन किया समय का,उसका बेड़ा पार हो गया।
 काम सदा ही करते रहना, जीवन का आधार हो गया ।।

समय बड़ा अनमोल है बंदे, करना सदा समय से बात।
 जो भी इस का मान करेगा, उसको नहीं मिले आघात ।।

पल पल काम करेगा जो भी, वह जीवन से पार हो गया।
 काम सदा ही करते रहना, जीवन का आधार हो गया।।