Thursday, 8 November 2018

दोहे "कोजावत उपवास "( राधा तिवारी "राधेगोपाल " )


कोजावत उपवास 
Image result for करवाचौथ
कहे बिहार बंगाल में , कोजावत उपवास 
लक्ष्मी करने  रहीधरती पर आवास।।

 व्यापारी देना नहीं ,रुपया आज उधार 
सोच समझ कर कीजिए , तुम अपना व्यापार।।

 चंदा वर्षा कर रहा ,है अमृत की आज 
 ईष्ट देव को तुम भजोपूरण होंगे काज।।

 धवल चंद्र की चांदनीदेती सदा सुकून।
सबसे अच्छा है यहाँ , कुदरत का कानून।।

 आदिदेव मेरे करोमन से दूर विकार।


 ग़र नहीं पूजा आपको, तो  जीवन धिक्कार।।